SADED

South Asian Dialogues On Ecological Democracy
         
SADED Universe
SADED Resource Centre

E-Journal English:Ecological Democracy

Nepal Corner

http://solidaritycentrefornepa ldemocracy.blogspot.in/

Campaign Photos
Videos

Check Email

Charter of Human Responsibilities

Feedback



...

Publication

India Se Bharat Ki Ore (Hindi)

 
समाजवादी आंदोलन से सम्बद्ध सक्रियकर्मी जिनकी पहचान बुद्धिजीवियों एवं ज़मीनी स्तर पर संघर्षरत कार्यकत्र्ताओं के सेतु के रूप में बनी। आपात्काल की घोषणा होने के समय दिल्ली स्कूल आॅफ इकाॅनाॅमिक्स में समाजशास्त्र विभाग में अध्ययनरत थे। 4 जुलाई 1975 से 22 फरवरी 1977 तक दिल्ली और जयपुर के केन्द्रीय कारागारों में सरकारी मेहमानी जिससे औपचारिक शिक्षा तो बीच में छूट गई किन्तु राजनैतिक शिक्षण अच्छा हो गया। विभिन्न दलों एवम् विचारधाराओं के नेताओं से व्यापक वार्ताओं एवम् विमर्शों से जहां एक ओर अपनी मूल विचारधारा (गांधीवादी समाजवाद) के प्रति विश्वास और गहरा हुआ, वहीं यह समझ भी बनी कि सभी विचारधाराओं में, विशेषतः जो विचारधाराएं समाज के शोषितों एवम् दबे कुचलों के हित-संरक्षण की बात करती हंै, सम्वाद अत्यन्त आवश्यक है। आपातकाल के बाद जनता शासन के दौरान दिल्ली युवा जनता के अध्यक्ष रहे। तदुपरान्त 1980 में देश के प्रख्यात् समाजशास्त्रियों के साथ ‘लोकायन‘ की स्थापना की जिसने अस्सी और नब्बे के दशक में विभिन्न विचारधाराओं के अगुवा लोगों और कार्यकत्र्ताओं के बीच संवाद स्थापित करने में खासी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। ‘लोकायन संवाद एंव समीक्षा‘ पत्रिका का 1982 से 1989 तक सम्पादन भी किया। लोकायन के बाद सम्पूर्ण क्रान्ति मंच और समता पार्टी के संस्थापक सदस्यों में थे। समता पार्टी की स्थापना के साथ उसके राष्ट्रीय सचिव बने किन्तु भारतीय जनता पार्टी से उसके गठजोड़ के बाद समता पार्टी से नाता तोड़ा।

पुस्तिका खरीदने के इच्छुक व्यक्ति info@saded.in, networkscommunication@gmail.com को संपर्क करें।

 

web counter html code
times this site has been visited.
 

South Asian Dialogues on Ecological Democracy