SADED

South Asian Dialogues On Ecological Democracy
         
SADED Universe
SADED Resource Centre

E-Journal English:Ecological Democracy

Nepal Corner

http://solidaritycentrefornepa ldemocracy.blogspot.in/

Campaign Photos
Videos

Check Email

Charter of Human Responsibilities

Feedback



...

Green Features / Towards Sustainable Solutions (Kosi Floods)

कोसी आंदोलन

कोसी इलाके में हम कई साथी विगत 19 अगस्त, 2008 से कोसी की तबाही से पीडि़त मधेपुरा, सहरसा, सुपौल, अररिया पूर्णिया, कटिहार, किशनगंज, खगडि़या और नवगधिया पुलिस जिला के विभिन्न इलाकों में जा रहे हैं। मुख्य रूप से आप लोगों के साथ खड़े होने, तथ्यों का संकलन करने, राहत कार्यों पर नजर रखने, अपने सम्पर्कों, संधियों एवं परिजनों से मिलने-जुलने और संचार माध्यमों से अपनी बात को कहने का प्रयास कर रहे हैं। इसमें ढेर सारे लोगों के अनुभव शामिल हैं। भ्रमण के दौरान जो राय बनी है उसे सरकार और समाज के सामने प्रस्तुत करना जरूरी लगता है।A Read more

विषयः ‘बिहार बाढ़‘ और उसके संभव उपाय (बैठक)

बिहार में आए पानी के प्रलय से जो विनाश हुआ उसे सिर्फ प्राकृतिक बाढ़ या प्राकृतिक विनाश का नाम नहीं दे सकते इसके लिए प्रकृति की अपेक्षा हमारे समाज की नासमझी ज्यादा जिम्मेदार है। लेकिन फिर भी हमें हर दुर्घटना के बाद कुछ इसी तरह की टिप्पणियां और आलोचनाएं सुनने को मिलती रहती हैं। इस समस्या के कारणों और उन्हें दूर करने के बारे में हमारे नीति निर्धारक, राजनैतिक कार्यकर्ताआ, शोधकर्ता, तकनीकी समझ रखने वाले नेता या अन्य रूपों में काम करने वाले कार्यकर्ता अलग-अलग तरीके से चिंतन-मनन करते हैं लेकिन फिर भी किसी की बात का असर नहीं हो रहा है क्योंकि वो अलग-अलग दिशा में जा रहे हैं। इसलिए हम आज की बातचीत को इन्हीं बिंदुओं पर केन्द्रित करना चाहते हैं।Read more

NORTH BIHAR RIVERS NEETI SAMVAD

The floods have been recurrent calamity in Bihar. Unfortunately, in past few years, particularly in the year 2004, 2006 and 2007 and 2008 the intensity and ferocity of floods have further multiplied. In fact the floods of 2008 occuring as a result of breaking of Eastern embankments of Kosi, for the first time upstream of the Birpur barrage in Nepal, is the biggest disaster and calamity that has fallen Read more

Tabahi Ki Gawahi (Witness to the Destruction)

We have been active since the very first days in the unfortunate months of August 2008 when the eastern embankment was breached for the first time upstream if the Viripur barrage in last fifty years and 4 million people were suddenly affected by the floods. It has been our endeavor to raise the voices of the people from below and hold government accountable for its actions. Read more

Tabahi- Ki Gawahi – Bihar Floods

Dr. Onkar Mittal

We have been actively involved on the ground, since the very first days, in the unfortunate months of August 2008 when the Eastern Embankment of Kosi river was breached for the first time, at Kusha, upstream of the Viripur barrage in Nepal, in the last fifty years. Nearly 4 million people, living on the eastern bank of Kosi, from Kusaha to Kursela, some in Nepal, and mostly in the Read more

...........................................................................................................................................

Challenges of Democratic Governance

Ecology, Dignity, Marginalized Majorities

Enabling Knowledge to Combat Global Warming

Towards Discussions on Manifestoes for Ecological Swaraj

Dialogues on Gandhi and Ecological August-December 2008

Back

 

web counter html code
times this site has been visited.
 

South Asian Dialogues on Ecological Democracy